International Tea Day 2023: सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होती हैं ये 5 तरह की चाय, घर पर बनाकर पी सकते हैं

हर साल 15 दिसंबर के दिन International Tea Day मनाया जाता है. दूध वाली चाय के अलावा भी ऐसी कई चाय हैं जिन्हें पीने पर सेहत को अलग-अलग कई फायदे मिलते हैं.

International Tea Day 2023: 5 तरह की चाय, घर पर बनाकर पी सकते हैं

ब्लैक टी के फायदे

ब्लैक टी एक प्रकार की चाय है जो पूरे, ऑक्सीकरण किए गए चाय पत्तियों से बनती है। यह दुनिया भर में सबसे लोकप्रिय चाय प्रकारों में से एक है। ब्लैक टी में कई स्वास्थ्य लाभ हो सकते हैं, जिनमें शामिल हैं:

  • हृदय स्वास्थ्य में सुधार: ब्लैक टी में फ्लेवोनॉइड्स होते हैं, जो एंटीऑक्सिडेंट होते हैं जो हृदय रोग के जोखिम को कम करने में मदद कर सकते हैं। ब्लैक टी पीने से रक्तचाप कम करने, कोलेस्ट्रॉल के स्तर में सुधार करने और स्ट्रोक के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है।
  • कैंसर से लड़ने में मदद: ब्लैक टी में एंटीऑक्सिडेंट भी होते हैं जो कैंसर के विकास को रोकने में मदद कर सकते हैं। ब्लैक टी पीने से स्तन कैंसर, कोलोरेक्टल कैंसर और प्रोस्टेट कैंसर के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है।
  • रक्त शर्करा को नियंत्रित करने में मदद: ब्लैक टी में कैटेचिन नामक यौगिक होते हैं जो इंसुलिन संवेदनशीलता में सुधार करने में मदद कर सकते हैं। ब्लैक टी पीने से टाइप 2 मधुमेह के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है।
  • मस्तिष्क स्वास्थ्य में सुधार: ब्लैक टी में एंटीऑक्सिडेंट भी होते हैं जो मस्तिष्क को नुकसान से बचाने में मदद कर सकते हैं। ब्लैक टी पीने से अल्जाइमर रोग और पार्किंसंस रोग के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है।
  • ब्लैक टी पीने के अन्य संभावित लाभों में शामिल हैं:
  • वजन घटाने में मदद: ब्लैक टी में कैफीन और कैटेचिन होते हैं, जो चयापचय को बढ़ाने और वजन घटाने में मदद कर सकते हैं।
  • प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देना: ब्लैक टी में एंटीऑक्सिडेंट होते हैं जो प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में मदद कर सकते हैं।
  • शरीर को हाइड्रेटेड रखना: ब्लैक टी एक अच्छी तरह से हाइड्रेटेड पेय है।
  • ब्लैक टी आमतौर पर सुरक्षित होती है, लेकिन कुछ लोगों को कैफीन की प्रतिक्रिया हो सकती है। यदि आप गर्भवती हैं या स्तनपान करा रही हैं, तो ब्लैक टी पीने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें।

ग्रीन टी के फायदे

ग्रीन टी एक प्रकार की चाय है जो बिना ऑक्सीकरण किए हुए चाय पत्तियों से बनती है। यह एक लोकप्रिय पेय है जिसे इसके स्वास्थ्य लाभों के लिए जाना जाता है। ग्रीन टी में कई लाभकारी यौगिक होते हैं, जिनमें शामिल हैं:

  • एंटीऑक्सिडेंट: ग्रीन टी में कैटेचिन नामक एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो शरीर को नुकसान से बचाने में मदद कर सकते हैं।
  • कैफीन: ग्रीन टी में कैफीन भी होता है, जो ऊर्जा के स्तर को बढ़ाने में मदद कर सकता है।
  • एल-थेनाइन: ग्रीन टी में एल-थेनाइन भी होता है, जो चिंता और तनाव को कम करने में मदद कर सकता है।
  • ग्रीन टी पीने के कई संभावित स्वास्थ्य लाभ हो सकते हैं, जिनमें शामिल हैं:
  • हृदय स्वास्थ्य में सुधार: ग्रीन टी पीने से रक्तचाप कम करने, कोलेस्ट्रॉल के स्तर में सुधार करने और स्ट्रोक के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है।
  • कैंसर से लड़ने में मदद: ग्रीन टी पीने से स्तन कैंसर, कोलोरेक्टल कैंसर और प्रोस्टेट कैंसर के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है।
  • रक्त शर्करा को नियंत्रित करने में मदद: ग्रीन टी पीने से टाइप 2 मधुमेह के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है।
  • वजन घटाने में मदद: ग्रीन टी पीने से चयापचय को बढ़ाने और वजन घटाने में मदद मिल सकती है।
  • प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देना: ग्रीन टी पीने से प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में मदद मिल सकती है।
  • मस्तिष्क स्वास्थ्य में सुधार: ग्रीन टी पीने से अल्जाइमर रोग और पार्किंसंस रोग के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है।

ग्रीन टी आमतौर पर सुरक्षित होती है, लेकिन कुछ लोगों को कैफीन की प्रतिक्रिया हो सकती है। यदि आप गर्भवती हैं या स्तनपान करा रही हैं, तो ग्रीन टी पीने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें।

ग्रीन टी का आनंद लेने का सबसे अच्छा तरीका है इसे ताज़े रूप से बनाया जाना। आप इसे चाय की पत्तियों को उबालकर या एक चाय बनाने वाले का उपयोग करके बना सकते हैं। ग्रीन टी को स्वादिष्ट बनाने के लिए आप चीनी, दूध या अन्य सामग्री जोड़ सकते हैं।

Also read: Can you eat garlic skin

सौंफ की चाय के फायदे

सौंफ की चाय पीने के कई संभावित स्वास्थ्य लाभ हो सकते हैं, जिनमें शामिल हैं:

  • पाचन स्वास्थ्य में सुधार: सौंफ की चाय में फाइबर होता है, जो पाचन स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मदद कर सकता है। यह कब्ज, दस्त और सूजन जैसी पाचन समस्याओं को दूर करने में मदद कर सकता है।
  • वजन घटाने में मदद: सौंफ की चाय में फाइबर होता है, जो वजन घटाने में मदद कर सकता है। यह भूख को कम करने और चयापचय को बढ़ाने में मदद कर सकता है।
  • प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देना: सौंफ की चाय में एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में मदद कर सकते हैं। यह संक्रमण से लड़ने में मदद कर सकता है।
  • हृदय स्वास्थ्य में सुधार: सौंफ की चाय में एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मदद कर सकते हैं। यह रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद कर सकता है।
  • मस्तिष्क स्वास्थ्य में सुधार: सौंफ की चाय में एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो मस्तिष्क स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मदद कर सकते हैं। यह अल्जाइमर रोग और पार्किंसंस रोग के जोखिम को कम करने में मदद कर सकता है।

सौंफ की चाय आमतौर पर सुरक्षित होती है, लेकिन कुछ लोगों को कैफीन की प्रतिक्रिया हो सकती है। यदि आप गर्भवती हैं या स्तनपान करा रही हैं, तो सौंफ की चाय पीने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें।

सौंफ की चाय बनाने के लिए, आप 1 चम्मच सौंफ के बीजों को 1 कप उबलते पानी में डाल सकते हैं। चाय को 5-10 मिनट तक उबालें, फिर इसे छान लें। आप अपनी पसंद के अनुसार चीनी या दूध मिला सकते हैं।

सौंफ की चाय एक स्वादिष्ट और स्वस्थ पेय है जिसे आप अपने दैनिक आहार में शामिल कर सकते हैं। यह कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान कर सकती है, जिनमें पाचन स्वास्थ्य में सुधार, वजन घटाने में मदद, प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देना, हृदय स्वास्थ्य में सुधार और मस्तिष्क स्वास्थ्य में सुधार शामिल हैं।

गुड़हल की चाय के फायदे

गुड़हल की चाय एक स्वादिष्ट और स्वास्थ्यवर्धक पेय है जो कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान कर सकती है। गुड़हल में कई पोषक तत्व होते हैं, जिनमें शामिल हैं:

  • एंटीऑक्सिडेंट: गुड़हल में एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो शरीर को नुकसान से बचाने में मदद कर सकते हैं।
  • फाइबर: गुड़हल में फाइबर होता है, जो पाचन स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मदद कर सकता है।
  • विटामिन सी: गुड़हल में विटामिन सी होता है, जो प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में मदद कर सकता है।

गुड़हल की चाय पीने के कई संभावित स्वास्थ्य लाभ हो सकते हैं, जिनमें शामिल हैं:

  • वजन घटाने में मदद: गुड़हल की चाय में फाइबर होता है, जो वजन घटाने में मदद कर सकता है। यह भूख को कम करने और चयापचय को बढ़ाने में मदद कर सकता है।
  • प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देना: गुड़हल की चाय में एंटीऑक्सिडेंट और विटामिन सी होते हैं, जो प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में मदद कर सकते हैं। यह संक्रमण से लड़ने में मदद कर सकता है।
  • हृदय स्वास्थ्य में सुधार: गुड़हल की चाय में एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मदद कर सकते हैं। यह रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद कर सकता है।
  • कैंसर से लड़ने में मदद: गुड़हल की चाय में एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो कैंसर के विकास को रोकने में मदद कर सकते हैं।
  • मस्तिष्क स्वास्थ्य में सुधार: गुड़हल की चाय में एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो मस्तिष्क स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मदद कर सकते हैं। यह अल्जाइमर रोग और पार्किंसंस रोग के जोखिम को कम करने में मदद कर सकता है।

गुड़हल की चाय आमतौर पर सुरक्षित होती है, लेकिन कुछ लोगों को कैफीन की प्रतिक्रिया हो सकती है। यदि आप गर्भवती हैं या स्तनपान करा रही हैं, तो गुड़हल की चाय पीने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें।

गुड़हल की चाय बनाने के लिए, आप 1 चम्मच गुड़हल के फूलों को 1 कप उबलते पानी में डाल सकते हैं। चाय को 5-10 मिनट तक उबालें, फिर इसे छान लें। आप अपनी पसंद के अनुसार चीनी या दूध मिला सकते हैं।

गुड़हल की चाय एक स्वादिष्ट और स्वस्थ पेय है जिसे आप अपने दैनिक आहार में शामिल कर सकते हैं। यह कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान कर सकती है, जिनमें वजन घटाने में मदद, प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देना, हृदय स्वास्थ्य में सुधार, कैंसर से लड़ने में मदद और मस्तिष्क स्वास्थ्य में सुधार शामिल हैं।

गुड़हल की चाय के कुछ अतिरिक्त लाभ:

  • बालों के स्वास्थ्य में सुधार: गुड़हल की चाय में एंटीऑक्सिडेंट होते हैं जो बालों को नुकसान से बचाने में मदद कर सकते हैं। यह बालों के झड़ने को रोकने और बालों को मजबूत और चमकदार बनाने में मदद कर सकता है।
  • मुँहासे को कम करने में मदद: गुड़हल की चाय में एंटीऑक्सिडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो मुँहासे को कम करने में मदद कर सकते हैं। यह त्वचा को साफ और स्वस्थ रखने में भी मदद कर सकता है।
  • सूजन को कम करने में मदद: गुड़हल की चाय में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो सूजन को कम करने में मदद कर सकते हैं। यह जोड़ों के दर्द और सूजन को कम करने में मदद कर सकता है।

गुड़हल की चाय एक बहुमुखी पेय है जो कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान कर सकती है। यह एक स्वादिष्ट और सुगंधित पेय भी है जिसे आप अपने दैनिक आहार में शामिल कर सकते हैं।

अदरक की चाय के फायदे

अदरक की चाय एक स्वादिष्ट और स्वास्थ्यवर्धक पेय है जो कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान कर सकती है। अदरक में कई पोषक तत्व होते हैं, जिनमें शामिल हैं:

  • एंटीऑक्सिडेंट: अदरक में एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो शरीर को नुकसान से बचाने में मदद कर सकते हैं।
  • एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण: अदरक में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो सूजन को कम करने में मदद कर सकते हैं।
  • एंटी-माइक्रोबियल गुण: अदरक में एंटी-माइक्रोबियल गुण होते हैं, जो संक्रमण से लड़ने में मदद कर सकते हैं।

अदरक की चाय पीने के कई संभावित स्वास्थ्य लाभ हो सकते हैं, जिनमें शामिल हैं:

  • पाचन स्वास्थ्य में सुधार: अदरक की चाय पाचन स्वास्थ्य में सुधार करने में मदद कर सकती है। यह कब्ज, दस्त और सूजन जैसी पाचन समस्याओं को दूर करने में मदद कर सकता है।
  • वजन घटाने में मदद: अदरक की चाय वजन घटाने में मदद कर सकती है। यह भूख को कम करने और चयापचय को बढ़ाने में मदद कर सकता है।
  • प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देना: अदरक की चाय प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने में मदद कर सकती है। यह संक्रमण से लड़ने में मदद कर सकता है।
  • हृदय स्वास्थ्य में सुधार: अदरग की चाय हृदय स्वास्थ्य में सुधार करने में मदद कर सकती है। यह रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद कर सकती है।
  • कैंसर से लड़ने में मदद: अदरग की चाय कैंसर से लड़ने में मदद कर सकती है। यह कैंसर के विकास को रोकने या धीमा करने में मदद कर सकता है।
  • मूड में सुधार: अदरग की चाय मूड में सुधार करने में मदद कर सकती है। यह तनाव और चिंता को कम करने में मदद कर सकती है।

अदरग की चाय आमतौर पर सुरक्षित होती है, लेकिन कुछ लोगों को कैफीन की प्रतिक्रिया हो सकती है। यदि आप गर्भवती हैं या स्तनपान करा रही हैं, तो अदरग की चाय पीने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें।

अदरग की चाय बनाने के लिए, आप 1 चम्मच अदरक के टुकड़ों को 1 कप उबलते पानी में डाल सकते हैं। चाय को 5-10 मिनट तक उबालें, फिर इसे छान लें। आप अपनी पसंद के अनुसार चीनी या दूध मिला सकते हैं।

अदरग की चाय एक स्वादिष्ट और स्वस्थ पेय है जिसे आप अपने दैनिक आहार में शामिल कर सकते हैं। यह कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान कर सकती है, जिनमें पाचन स्वास्थ्य में सुधार, वजन घटाने में मदद, प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देना, हृदय स्वास्थ्य में सुधार, कैंसर से लड़ने में मदद और मूड में सुधार शामिल हैं।

Thank You…!

Leave a Comment